कंप्यूटर पर निबंध हिन्दी मे - essay on computer in hindi

कम्प्यूटर पर निबंध स्वागत है आपका gyankibook पर । आज के लेख मे हम essay on computer in hindi के बारे मे जानेंगे। हम इस लेख मे देखेंगे की कंप्यूटर का हमारे जिवन मे क्या महत्व है , कंप्यूटर का उपयोग और कंप्यूटर से होने वाली हानियाँ तो अगर आपको भी कम्प्यूटर पर निबंध चाहिए तो ये लेख आपके लिये बहुत महत्वपूर्ण है इसे अन्त तक पढ़ते रहिए। तो चलिये जानते है विस्तार मे essay on computer in hindi के बारे मे।

essay on computer in hindi
कंप्यूटर पर निबंध

essay on computer in hindi - कंप्यूटर पर निबंध हिन्दी मे

 कंप्यूटर पर निबंध 

प्रस्तावना -- कम्प्यूटर असीमित क्षमताओं वाला वर्तमान युग का एक क्रान्तिकारी साधन है। यह एक ऐसा यन्त्र - पुरुष है , जिसमें यान्त्रिक मस्तिष्कों का रूपात्मक और समन्वयात्मक योग तथा गुणात्मक घनत्व पाया जाता है। इसके परिणामस्वरूप यह कम - से - कम समय में तीव्रगति से त्रुटिहीन गणनाएँ कर लेता है।

आरम्भ में , गणित की जटिल गणनाएँ करने के लिए ही कम्प्यूटर का आविष्कार किया गया था । आधुनिक कम्प्यूटर के प्रथम सिद्धान्तकार चार्ल्स बैबेज ( सन् 1792-1871 ई ० ) ने गणित और खगोल - विज्ञान की सूक्ष्म सारणियाँ तैयार करने के लिए ही एक भव्य कम्प्यूटर की योजना तैयार की थी।

उन्नीसवीं सदी के अन्तिम दशक में अमेरिकी इंजीनियर हरमन होलेरिथ ने जनगणना से सम्बन्धित आँकड़ों का विश्लेषण करने के लिए पंचकार्डों पर आधारित कम्प्यूटर का प्रयोग किया था । दूसरे महायुद्ध के दौरान पहली बार बिजली से चलने वाले कम्प्यूटर बने।इनका उपयोग भी गणनाओं के लिए ही हुआ।

आज के कम्प्यूटर केवल गणनाएँ करने तक ही सीमित नहीं रह गये हैं वरन् अक्षरों , शब्दों , आकृतियों और कथनों को ग्रहण करने में अथवा इससे भी अधिक अनेकानेक कार्य करने में समर्थ हैं । आज कम्प्यूटरों का मानव - जीवन के अधिकाधिक क्षेत्रों में उपयोग करना सम्भव हुआ है। अब कम्प्यूटर संचार और नियन्त्रण के भी शक्तिशाली साधन बन गये हैं।


 कम्प्यूटर के उपयोग 

आज जीवन के विभिन्न क्षेत्रों में कम्प्यूटरों के व्यापक उपयोग हो रहे हैं।

(1). प्रकाशन के क्षेत्र में --- 

सन् 1971 ई ० में माइक्रोप्रोसेसर का आविष्कार हुआ । इस आविष्कार ने कम्प्यूटरों को छोटा , सस्ता और कई गुना शक्तिशाली बना दिया । माइक्रोप्रोसेसर के आविष्कार के बाद कम्प्यूटर का अनेक कार्यों में उपयोग सम्भव हुआ । शब्द - संसाधक (वर्ड प्रोसेसर) कम्प्यूटरों के साथ स्क्रीन व प्रिण्टर जुड़ जाने से इनकी उपयोगिता का खूब विस्तार हुआ है । सर्वप्रथम एक लेख सम्पादित होकर कम्प्यूटर में संचित होता है । टंकित मैटर को कम्प्यूटर की स्क्रीन पर देखा जा सकता है और उसमें संशोधन भी किया जा सकता है । इसके बाद मशीनों से छपाई होती है । अब तो अतिविकसित देशों ( ब्रिटेन आदि ) में बड़े समाचार - पत्रों में सम्पादकीय विभाग में एक सिरे पर कम्प्यूटरों में मैटर भरा जाता है तथा दूसरे सिरे पर तेज रफ्तार से इलेक्ट्रॉनिक प्रिण्टर समाचार - पत्र छापकर निकाल देते हैं।

(2). बैंकों में --- 

कम्प्यूटर का उपयोग बैंकों में किया जाने लगा है । कई राष्ट्रीयकृत बैंकों ने चुम्बकीय संख्याओं वाली चेक - बुक भी जारी कर दी हैं । खातों के संचालन और लेन - देन का हिसाब रखने वाले कम्प्यूटर भी बैंकों में स्थापित हो रहा है । आज कम्प्यूटर के द्वारा ही बैंकों में 24 घण्टे पैसों के लेन - देन की एटी ० एम ० ( Automated Teller Machine ) जैसी सेवाएँ सम्भव हो सकी हैं । यूरोप और अमेरिका में ही नहीं अब भारत में भी ऐसी व्यवस्थाएँ अस्तित्व में आ गयी हैं कि घर के निजी कम्प्यूटरों के जरिये बैंकों से भी लेन - देन का व्यवहार सम्भव हुआ है । 

(3). सूचनाओं के आदान - प्रदान में ---

प्रारम्भ में कम्प्यूटर की गतिविधियाँ वातानुकूलित कक्षों तक ही सीमित थीं , किन्तु अब एक कम्प्यूटर हजारों किलोमीटर दूर के दूसरे कम्प्यूटरों के साथ बातचीत ' कर सकता है तथा उसे सूचनाएँ भेज सकता है । दो कम्प्यूटरों के बीच यह सम्बन्ध तारों , माइक्रोवेव तथा उपग्रहों के जरिये स्थापित होता है । सूचनाओं के आदान - प्रदान के लिए देश के सभी प्रमुख छोटे - बड़े शहरों को कम्प्यूटर नेटवर्क के जरिये एक - दूसरे से जोड़ने की प्रक्रिया शीघ्र ही पूर्ण होने वाली है । इण्टरनेट जैसी सुविधा से आज देश का प्रत्येक नगर सम्पूर्ण विश्व से जुड़ गया है ।

(4). आरक्षण के क्षेत्र में ---

कम्प्यूटर नेटवर्क अनेक व्यवस्थाएँ अब हमारे देश में स्थापित हो गयी हैं । सभी प्रमुख एयरलाइन्स की हवाई यात्राओं के आरक्षण के लिए अब ऐसी व्यवस्था है कि भारत के किसी शहर से आपकी समूची हवाई यात्रा के आरक्षण के साथ - साथ विदेशों में आपकी इच्छानुसार होटल भी आरक्षित हो जाएगा । कम्प्यूटर नेटवर्क से अब देश के सभी प्रमुख शहरों में रेल - यात्रा के आरक्षण की व्यवस्था भी अस्तित्व में आ गयी है । 

(5). कम्प्यूटर ग्राफिक्स में ---

कम्प्यूटर केवल अंकों और अक्षरों को ही नहीं , वरन् रेखाओं और आकृतियों को भी सँभाल सकते हैं । कम्प्यूटर ग्राफिक्स की इस व्यवस्था के अनेक उपयोग हैं । भवनों , मोटरगाड़ियों , हवाई - जहाजों आदि के डिज़ाइन तैयार करने में कम्प्यूटर ग्राफिक्स का व्यापक उपयोग हो रहा है । वास्तुशिल्पी अब अपने डिज़ाइन कम्प्यूटर स्क्रीन पर तैयार करते हैं और संलग्न प्रिण्टर से इनके प्रिण्ट भी प्राप्त कर लेते हैं । यहाँ तक कि कम्प्यूटर चिप्स के सर्किटों के डिजाइन भी अब कम्प्यूटर ग्राफिक्स की मदद से तैयार होने लगे हैं । वैज्ञानिक अनुसन्धान भी कम्प्यूटर के स्क्रीन पर किये जा रहे हैं । 

(6). कला के क्षेत्र में ---

कम्प्यूटर अब चित्रकार की भूमिका भी निभाने लगे हैं । चित्र तैयार करने के लिए अब रंगों , तूलिकाओं , रंग - पट्टिका और कैनवास की कोई आवश्यकता नहीं रह गयी है । चित्रकार अब कम्प्यूटर के सामने बैठता है और अपने नियोजित प्रोग्राम की मदद से अपनी इच्छा के अनुसार स्क्रीन पर रंगीन रेखाएँ प्रस्तुत कर देता है । रेखांकनों से स्क्रीन पर निर्मित कोई भी चित्र ' प्रिण्ट ' की कुञ्जी दबाते ही , अपने समूचे रंगों के साथ कम्प्यूटर से संलग्न प्रिण्टर द्वारा कागज पर छाप दिया जाता है । 

(7). संगीत के क्षेत्र में ---

कम्प्यूटर अब सुर सजाने का काम भी करने लगे हैं । पाश्चात्य संगीत के स्वरांकन को कम्प्यूटर स्क्रीन पर प्रस्तुत करने में कोई कठिनाई नहीं होती , परन्तु वीणा जैसे भारतीय वाद्य की स्वरलिपि तैयार करने में कठिनाइयाँ आ रही हैं , परन्तु वह दिन दूर नहीं है जब भारतीय संगीत की स्वर - लहरियों को कम्प्यूटर स्क्रीन पर उभारकर उनका विश्लेषण किया जाएगा और संगीत - शिक्षा की नयी तकनीक विकसित की जा सकेंगी । 

(8). खगोल - विज्ञान के क्षेत्र में ---

कम्प्यूटरों ने वैज्ञानिक अनुसन्धान के अनेक क्षेत्रों का समूचा ढाँचा ही बदल दिया है । पहले खगोलविद् दूरबीनों पर रात - रातभर आँखें गड़ाकर आकाश के पिण्डों का अवलोकन करते थे , किन्तु अब किरणों की मात्रा के अनुसार ठीक - ठीक चित्र उतारने वाले इलेक्ट्रॉनिक उपकरण उपलब्ध हो गये हैं । इन चित्रों में निहित जानकारी का व्यापक विश्लेषण अब कम्प्यूटरों से होता है । 

(9). चुनावों में --- 

इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन भी एक सरल कम्प्यूटर ही है । मतदान के लिए ऐसी वोटिंग मशीनों का उपयोग सीमित पैमाने पर ही सही अब हमारे देश में भी हो रहा है ।

(10). उद्योग - धन्धों में --- 

कम्प्यूटर उद्योग - नियन्त्रण के भी शक्तिशाली साधन हैं । बड़े - बड़े कारखानों के संचालन का काम अब कम्प्यूटर सँभालने लगे हैं । कम्प्यूटरों से जुड़कर रोबोट अनेक किस्म के औद्योगिक उत्पादनों को सँभाल सकते हैं । कम्प्यूटर भयंकर गर्मी और ठिठुरती सर्दी में भी यथावत् कार्य करते हैं । इनका उस पर कोई असर नहीं पड़ता । हमारे देश में अब अधिकांश निजी व्यवसायों में कम्प्यूटर का प्रयोग होने लगा है । 

(11). सैनिक कार्यों में --- 

आज प्रमुख रूप से महायुद्ध की तैयारी के लिए नये - नये शक्तिशाली सुपर कम्प्यूटरों का विकास किया जा रहा है । महाशक्तियों की ' स्टार वार्स ' की योजना कम्प्यूटरों के नियन्त्रण पर आधारित है । पहले भारी कीमत देकर हमारे देश में सुपर कम्प्यूटर आयात किये जा रहे थे ; परन्तु अब इन सुपर कम्प्यूटरों का निर्माण हमारे देश में भी किया जा रहा है । 

(12). अपराध - निवारण में --- 

अपराधों के निवारण में भी कम्प्यूटर की अत्यधिक उपयोगिता है । पश्चिम के कई देशों में सभी अधिकृत वाहन मालिकों , चालकों , अपराधियों का रिकॉर्ड पुलिस के एक विशाल कम्प्यूटर में संरक्षित होता है। कम्प्यूटर द्वारा क्षण मात्र में अपेक्षित जानकारी उपलब्ध हो जाती है , जो कि अपराधियों के पकड़ने में सहायक सिद्ध होती है । यही नहीं , किसी भी अपराध से सन्दर्भित अनेकानेक तथ्यों में से विश्लेषण द्वारा कम्प्यूटर नये तथ्य ढूँढ़ लेता है तथा किसी अपराधी का कैसा भी चित्र उपलब्ध होने पर वह उसकी सहायता से अपराधी के किसी भी उम्र और स्वरूप की तस्वीर प्रस्तुत कर सकता है ।

 कम्प्यूटर से हानियाँ 

जीवन के विभिन्न क्षेत्रों में कम्प्यूटर तकनीकी के निरन्तर बढ़ते जा रहे व्यापक उपयोगों ने जहाँ एक ओर इसकी उपयोगिता दर्शायी है , वहीं दूसरी ओर इसके भयावह परिणामों को भी अनदेखा नहीं किया जा सकता । यह स्पष्ट प्रतीत हो रहा है कि कम्प्यूटर हर क्षेत्र में मानव - श्रम को नगण्य बना देगा , जिससे भारत सदृश जनसंख्या बहुल देशों में बेरोजगारी की समस्या विकराल रूप धारण कर लेगी । विभिन्न विभागों में इसकी स्थापना से कर्मचारी भविष्य के प्रति अनाश्वस्त हो गये हैं। 

बैंकों आदि में इस व्यवस्था के कुछ दुष्परिणाम भी सामने आये हैं । दूसरों के खातों के कोड नम्बर जानकर प्रति वर्ष करोड़ों डॉलरों से बैंकों को ठगना अमेरिका में एक आम बात हो गयी है । हमारे देश के बैंकों में बिना कम्प्यूटरों के करोड़ों की ठगी के मामले आये दिन सामने आते रहते हैं। ज्योतिष के क्षेत्र में भी इसके परिणाम शत - प्रतिशत सही नहीं निकले हैं।

 कम्प्यूटर और मानव - मस्तिष्क 

कम्प्यूटर के सन्दर्भ में ढेर सारी भ्रान्तियाँ जनसामान्य के मस्तिष्क में छायी हुई हैं । कुछ लोग इसे सुपर पावर समझ बैठे हैं , जिसमें सब कुछ करने की क्षमता है । किन्तु उनकी धारणाएँ पूर्णरूपेण निराधार हैं । वास्तविकता तो यह है कि कम्प्यूटर एकत्रित आँकड़ों का इलेक्ट्रॉनिक विश्लेषण प्रस्तुत करने वाली एक मशीन मात्र है । यह केवल वही काम कर सकता है , जिसके लिए इसे निर्देशित किया गया हो । यह कोई निर्णय स्वयं नहीं ले सकता और न ही कोई नवीन बात सोच सकता है। यह मानवीय संवेदनाओं , अभिरुचियों , भावनाओं और चित्त से रहित मात्र एक यन्त्र - पुरुष है , जिसकी बुद्धि - लब्धि ( Intelligence Quotient : 1.Q . ) मात्र एक मक्खी के बराबर होती है , यानि बुद्धिमत्ता में कम्प्यूटर मनुष्य से कई हजार गुना पीछे है।

उपसंहार

निष्कर्ष रूप में यह कहा जा सकता है कि कम्प्यूटर टेक्नोलॉजी के भी दो पक्ष हैं । इसको सोच - समझकर उपयोग किया जाए तो यह वरदान सिद्ध हो सकता है , अन्यथा यह मानव - जाति की तबाही का साधन भी बन सकता है । इसीलिए कम्प्यूटर की क्षमताओं को ठीक से समझना जरूरी है । इलेक्ट्रॉनिकी शिक्षा एवं साधन ; कम्प्यूटर टेक्नोलॉजी की उपेक्षा नहीं कर सकते । लेकिन इनके लिए यदि बुनियादी शिक्षा की समुचित व्यवस्था की जाती , देश में टेक्नोलॉजी के साधन जुटाये जाते और पाश्चात्य संस्कृति में विकसित हुई इस टेक्नोलॉजी को देश की परिस्थितियों को ध्यान में रखकर धीरे - धीरे अपनाया जाता तो अच्छा होता।

Essay on computer in hindi

आज के लेख मे हमने essay on computer in hindi को बड़े विस्तार मे समझा इस लेख से आपको कंप्यूटर पर निबंध को समझने मे बहुत मदद मिली होगी। इस लेख मे हमने कंप्यूटर का हमारे जिवन मे उपयोग, कंप्यूटर से होने वाली हानियाँ, सभी के बारे मे बात किया है। हमें उमीद है आपको इस लेख की मदद से essay on computer in hindi को समझने मे मदद मिली होगी और ये लेख आपको पसंद आया होगा अगर आपके मन मे कोई सवाल हो तो आप हमे कमेंट के माध्यम से पुछ सकते है और ये लेख आपको कैसा लगा ये भी हमे कमेंट करके जरुर बताए और इस कंप्यूटर पर निबंध के लेख को अपने मित्रो के साथ फेसबुक या वॉट्सएप्प पर शेयर जरुर करे ।



0 Response to "कंप्यूटर पर निबंध हिन्दी मे - essay on computer in hindi"

Post a Comment