उपसर्ग किसे कहते हैं ? परिभाषा, भेद, और उदारहण

upsarg kise kahate hain

उपसर्ग किसे कहते हैं (upsarg kise kahate hain)

उपसर्ग की परिभाषा -- जो शब्दांश शब्द के आदि में जुड़कर नवीन शब्द बनाकर पहले शब्द के अर्थ को परिवर्तित कर देता है अथवा उसके अर्थ में विशेषता उत्पन्न कर देता है उसे उपसर्ग कहते हैं।
उदाहरण  --- पराजय, यहाँ परा शब्दांश ने जय शब्द के आदि में जुड़कर = पराजय नया शब्द बनाया है और जय शब्द के अर्थ को बदल दिया है -- जय का अर्थ होता है जीत और पराजय का अर्थ एकदम उल्टा होता है, हार अतः यहा परा उपसर्ग है।
अथवा
उपसर्ग वह शब्दांश है जो किसी शब्द के पहले जुड़कर एक नया शब्द बनाता है। जैसे --
'हार' का अर्थ होता है -- पराजय या माला। यदि इसके पहले 'प्र' , 'आ' , 'उप' आदि उपसर्ग जोड़े जाएँ, तो नया शब्द इस प्रकार बनेगा

प्र + हार = प्रहार (चोट पहुँचाना)
उप + हार = उपहार (भेंट)
आ + हार = आहार (भोजन)
सम् + हार = संहार (नाश)

स्पष्ट है कि उपसर्ग जोड़ने से नये-नये शब्दों की उत्पत्ति होती है।

उपसर्ग कितने प्रकार के होते हैं

हिन्दी में चार प्रकार के उपसर्ग प्रयुक्त होते हैं
(1) संस्कृत के उपसर्ग
(2) हिन्दी के उपसर्ग
(3) उर्दू के उपसर्ग (अरबी + फारसी)
(4) अँगरेजी के उपसर्ग

संस्कृत के उपसर्ग

उपसर्ग -- अति           
अर्थ -- अधिकता, ज्यादती, सीमा का उल्लंघन 
उपसर्ग लगे शब्द -- अतिरिक्त, अतिशय, अतिचार, अत्यंत, अत्युत्तम, अत्याचार आदि।

उपसर्ग -- अधि 
अर्थ -- ऊपर, ऊँचा, पर, प्रधान, अधिक, संबंध में
उपसर्ग लगे शब्द -- अधिराज, अधिकरण, अधिवास,  अधिपति, अधिमास, अधिदैविक, अधिभौतिक, अध्यक्ष, अध्यादेश आदि।

उपसर्ग -- अनु 
अर्थ -- पीछे, सदृश, साथ, प्रत्येक, बारंबार 
उपसर्ग लगे शब्द -- अनुगामी, अनुसरण, अनुकाल, अनुकूल, अनुरूप, अनुगुण, अनुकंपा, अनुभव, अनुग्रह, अनुपान, अनुक्षण आदि।

उपसर्ग -- अप 
अर्थ -- उलटा, विरुद्ध, बुरा, हीन, अधिक
उपसर्ग लगे शब्द -- अपकार, अपमान, अपकर्म, अपकीर्ति, अपांग, अपकलंक, अपहरण आदि।

उपसर्ग -- अपि
अर्थ -- निकट, संबंध
उपसर्ग लगे शब्द -- अपिधान, अपिकक्ष, अपिकर्ण आदि।

उपसर्ग -- अभि
अर्थ -- सामने, बुरा, अधिक, दूर, समीप, बारंबार, ऊपर
उपसर्ग लगे शब्द -- अभ्युत्थान, अभ्यागत, अभियुक्त, अभिलाषा, अभिसारिका, अभ्यास, अभिहरण, अभ्युदय आदि।

उपसर्ग -- अव
अर्थ -- निश्चय, अनादर, व्याप्ति, न्यूनता, गहराई 
उपसर्ग लगे शब्द -- अवधारण, अवज्ञा, अवमान, अवघात, अवतार, अवक्षेप, अवकाश आदि।

उपसर्ग -- आ 
अर्थ -- अर्थ में विशेषता लाता है या विपरीत अर्थ देता है।
उपसर्ग लगे शब्द -- आपात, आघूर्णन, आरोहण, आकंपन, आगमन, आनयन, आदान आदि।

उपसर्ग -- उत् / उद् 
अर्थ -- ऊपर, अतिक्रमण, उत्कर्ष, प्राबल्य, प्राधान्य, अभाव, प्रकाश, दोष 
उपसर्ग लगे शब्द -- उद्गमन, उत्तीर्ण, उत्क्रांत, उद्बोधन, उद्गति, उद्वेग, उद्बल, उद्देश्य, उत्पथ, उच्चारण, उन्मार्ग आदि।

उपसर्ग -- उप
अर्थ -- समीपता, सामर्थ्य, न्यूनता, व्याप्ति
उपसर्ग लगे शब्द -- उपकूल, उपनयन, उपगमन, उपकार, उपमंत्री, उपपुराण, उपकीर्ण आदि।

हिन्दी के उपसर्ग

उपसर्ग -- अ 
अर्थ -- अभाव, दूषित, निषेध
उपसर्ग लगे शब्द -- अकर्म, अन्याय, अचल, अभागा, अकाल, अदिन, अमोल आदि।

उपसर्ग -- अध
अर्थ -- आधा
उपसर्ग लगे शब्द -- अधजल, अधजला, अधपका, अधखिला, अधमरा, अधपई, अधसेरा, अधकचरा, अधकट, अधकहा आदि।

उपसर्ग -- अन
अर्थ -- अभाव, निषेध
उपसर्ग लगे शब्द -- अनबन, अनरीति, अनहोनी, अनऋतु, अनमोल, अनजान आदि।

उपसर्ग -- औ (अव)
अर्थ -- निषेध, हीनता
उपसर्ग लगे शब्द -- औगुन, औघट, औढर, औसर आदि।

उपसर्ग -- उन
अर्थ -- एक कम
उपसर्ग लगे शब्द -- उन्नीस, उनतीस, उनचालीस, उनचास, उनसठ, उनहत्तर आदि।

उपसर्ग -- दु
अर्थ -- बुरा, कम, हीन
उपसर्ग लगे शब्द -- दुकाल, दुबला आदि।

उपसर्ग -- नि
अर्थ -- निषेध, अभाव
उपसर्ग लगे शब्द -- निकम्मा, निखरा, निगोड़ा, निडर, निधड़क, निहत्था आदि।

उपसर्ग -- बिन
अर्थ -- बिना, अभाव, निषेध
उपसर्ग लगे शब्द -- बिनकाम, बिनचखा, बिनखाया, बिनदेखा, बिनबोया, बिनजाना, बिनब्याहा आदि।

उपसर्ग -- भर
अर्थ -- पुरा
उपसर्ग लगे शब्द -- भरपेट, भरपूर, भरसक, भरदिन आदि।

उपसर्ग -- क, कु
अर्थ -- बुरा, हीनता
उपसर्ग लगे शब्द -- कपूत, कदर्थ, कुकाठ, कुखेत, कुख्यात, कुपात्र आदि।

अरबी के उपसर्ग

उपसर्ग -- अल्
अर्थ -- निश्चित, यह कि
उपसर्ग लगे शब्द -- अलगरज, अलबत्ता, अलमस्त आदि।

उपसर्ग -- ऐन
अर्थ -- ठीक, सटीक
उपसर्ग लगे शब्द -- एनमौका, ऐनवक्त आदि।

उपसर्ग -- गैर
अर्थ -- निषेध, विरोध, विपरीत
उपसर्ग लगे शब्द -- गैरकानूनी, गैरमुमकिन, गैरमुनासिब, गैरवाजिब, गैरसरकारी, गैरहाजिर आदि।

उपसर्ग -- फी
अर्थ -- प्रत्येक, हर एक
उपसर्ग लगे शब्द -- फीमर्द, फीरुपया, फीसदी आदि।

उपसर्ग -- बिल
अर्थ -- साथ
उपसर्ग लगे शब्द -- बिलकुल, बिलफेल आदि।

उपसर्ग -- बिला
अर्थ -- बिना
उपसर्ग लगे शब्द -- बिलादिमाग, बिलाशक आदि।

उपसर्ग -- ला
अर्थ -- बिना, नहीं
उपसर्ग लगे शब्द -- लाइलाज, लाइल्म, लाजवाब, लापरवाह, लावारिस आदि।

फारसी के उपसर्ग

उपसर्ग --
अर्थ -- साथ
उपसर्ग लगे शब्द -- आगाह, आवारा आदि।

उपसर्ग -- कम
अर्थ -- थोड़ा, हीन
उपसर्ग लगे शब्द -- कमअक्ल, कमउम्र, कमख्याल, कमजोर, कमबख्त, कमसिन आदि।

उपसर्ग -- खुश
अर्थ -- अच्छा
उपसर्ग लगे शब्द -- खुशकिस्मत, खुशखबरी, खुशदिल, खुशनसीब, खुशबू, खुशहाल आदि।

उपसर्ग -- दर
अर्थ -- में
उपसर्ग लगे शब्द -- दरअसल, दरकार, दरमियान आदि। 

उपसर्ग -- ना
अर्थ -- नहीं, अभाव
उपसर्ग लगे शब्द -- नाउम्मीद, नाचीज, नादान, नापसंद, नाराज, नालायक, नासमझ आदि।

उपसर्ग -- नेक
अर्थ -- अच्छा
उपसर्ग लगे शब्द -- नेकजात, नेकनाम, नेकनीयत, नेकदिल, नेकबख्त आदि।

उपसर्ग -- बद
अर्थ -- बुरा
उपसर्ग लगे शब्द -- बदकिस्मत, बदजात, बदतमीज, बददुआ, बदनीयत, बदनाम, बदबू, बदहजमी आदि।

उपसर्ग -- बर
अर्थ -- बाहर, ऊपर
उपसर्ग लगे शब्द -- बरखास्त, बरखिलाफ, बरखुरदार, बरदाश्त, बरपा, बरबाद आदि।

उपसर्ग -- बा
अर्थ -- साथ, वाला, पूर्ण 
उपसर्ग लगे शब्द -- बाअदब, बाअसर, बाआबरू, बाईमान, बाइज्जत, बाकलम, बाकायदा आदि।

उपसर्ग -- बे
अर्थ -- बिना, बगैर
उपसर्ग लगे शब्द -- बेअक्ल, बेइज्जत, बेईमान, बेगैरत, बेवफा, बेशुमार आदि।

अँगरेजी के उपसर्ग 

उपसर्ग -- डबल
अर्थ -- दुगना, दोहरा 
उपसर्ग लगे शब्द -- डबल रोटी, डबल खुराक, डबल नाश्ता, डबल-फॉल्ट आदि।
 
उपसर्ग -- डिप्टी
अर्थ -- उप
उपसर्ग लगे शब्द -- डिप्टी-इंस्पेक्टर, डिप्टी-कमिश्नर, डिप्टी-साहब आदि।

उपसर्ग -- फुल
अर्थ -- पूरा
उपसर्ग लगे शब्द -- फुल कुरता, फुल-स्वेटर, फुल जूता, फुल-पैंट आदि।

उपसर्ग -- सब
अर्थ -- अवर, छोटा
उपसर्ग लगे शब्द -- सब-इंस्पेक्टर, सब-ऑफिसर, सब-जज, सब-रजिस्ट्रार, सब-डिवीजन आदि।

उपसर्ग -- हाफ
अर्थ -- आधा
उपसर्ग लगे शब्द -- हाफ कमीज, हाफ कुरता, हाफ-शर्ट, हाफ-पैंट आदि।

उपसर्ग -- हेड
अर्थ -- मुख्य, प्रधान 
उपसर्ग लगे शब्द -- हेड-क्लर्क, हेड-मास्टर, हेड-मिस्ट्रेस, हेड-कांस्टेबुल, हेड पंडित, हेड मौलवी आदि।

नोट ---
(1). संस्कृत में कुछ ऐसे शब्द हैं, जिनमें दो या तीन उपसर्ग भी मिलते हैं। जैसे -- 
पर्यावरण = परि + आ + वरण।
समालोचन = सम् + आ + लोचन।
व्याकरण = वि + आ + करण।
दुर्व्यवहार = दुर् + वि + अव + हार।

(2). आपको हमेशा इस बात का ख्याल रखना चाहिए कि संस्कृत के उपसर्ग का प्रयोग संस्कृत शब्दों के साथ, हिन्दी का हिन्दी के साथ एवं उर्दू का उर्दू के साथ हो, नहीं तो उपसर्ग लगा शब्द अटपटा-सा लगेगा। जैसे --
हम (फारसी) + उम्र (अरबी) = हमउम्र --- (सही मेल)
हम (फारसी) + आयु (संस्कृत) = हमआयु --- (गलत मेल)

लेकिन अंग्रेजी के उपसर्गों के साथ प्रायः ऐसी बात नहीं है, जैसा की ऊपर आपको बताया गया है।

0 Response to " उपसर्ग किसे कहते हैं ? परिभाषा, भेद, और उदारहण "

Post a Comment