ग्रेजुएशन क्या है और ग्रेजुएशन कैसे करे - What Is Graduation In Hindi

What Is Graduation In Hindi

इस आर्टिकल में हम एक बहुत ही महत्वपूर्ण विषय पर चर्चा करने वाले है और वो है 'Graduation' बहुत से छात्रो के मन मे ये सवाल आता है की ग्रेजुएशन क्या है और ग्रेजुएशन कैसे करते है और अगर आपके मन में भी ऐसे सवाल है तो आप सही जगह पर है क्योकी इस आर्टिकल में हम इसी के बारे में विस्तार से समझेंगे। जब आप कक्षा 12 उत्तीर्ण कर लेते है तब आपके मन मे ये सवाल जरुर आता होगा की अब हमें आगे कौन-सा कोर्स करना चाहिए जिससे की हम अपने life में सक्सेस हो सके और आने वाले भविष्य में एक अच्छी जिन्दगी जी सके। ऐसे में अगर आप किसी से सलाह लेते है की आपको कक्षा 12 के बाद क्या करना चाहिए तो आपको जवाब में ग्रेजुएशन जरुर सुनने को मिलता होगा। लेकिन ग्रेजुएशन का मतलब क्या होता है शायद आपको नहीं पता होता। तो चलिए विस्तारपूर्वक से समझ लेते है की Graduation kya hai और Graduation kaise kare

ग्रेजुएशन क्या है (What is Graduation in hindi)

कक्षा 12 पास करने के बाद जिस कोर्स को करके आप बैचलर डिग्री प्राप्त करते है उसे हम ग्रेजुएशन कहते है। जैसे -- BA, BBA, B.sc ये सभी ग्रेजुएशन कोर्स है जिन्हे आप कक्षा 12 उत्तीर्ण करने के बाद कर सकते हैं। ग्रेजुएशन को हिन्दी में स्नातक स्तर की पढ़ाई कहते है यह मुख्यतः 3 से 5 वर्ष का कोर्स होता है जिसे आप किसी भी सरकारी विश्वविद्यालय या प्राइवेट काॅलेज से आसानी से कर सकते है। ग्रेजुएशन को हम अंडर ग्रेजुएट डिग्री के नाम से भी जानते है। जैसे ही आप ये 3 वर्षीय कोर्स की डिग्री प्राप्त कर लेते है तब आप ग्रेजुएट कहलाते है।

ग्रेजुएशन का मतलब क्या होता है

जब कोई छात्र कक्षा 10+2 पास करके किसी विश्वविद्यालय से 3 वर्ष का बैचलर कोर्स पुरा करके डिग्री प्राप्त कर लेता है तो वो छात्र ग्रेजुएट कहलाता है। मतलब की उस छात्र ने ग्रेजुएशन किया है। 

ग्रेजुएशन कोर्स करने की योग्यता

अब हम ग्रेजुएशन कोर्स करने की योग्यता के बारे में बात करते है तो जैसा की आपको ऊपर बताया है की आप इसे कक्षा 12 पास करने के बाद कर सकते है। आप अपने कक्षा 12 में लिये गये विषय के अनुसार ग्रेजुएशन कोर्स कर सकते है जिसमें की आपके कक्षा 12 में कम से कम 45% मार्क्स के ऊपर होने चाहिए। अगर आपके क्लास 12 में 45% मार्क्स से ऊपर है तो आप ग्रेजुएशन करने के योग्य है।

ग्रेजुएशन में कौन कौन से सब्जेक्ट होते है

ग्रेजुएशन कोर्स की लिस्ट की बात करे तो कक्षा 12 पास करने के बाद बहुत से ग्रेजुएशन कोर्स होते है जिन्हे आप कर सकते है। ये निर्भर करता है की आपने क्लास 12 किस विषय से पास किया है जैसे - अगर आपने कक्षा 12 आर्ट्स से पास किया है तो आप B.A कर सकते है, अगर कॉमर्स से पास किया है तो B.com कर सकते है और वही अगर साइंस से पास किया है तो आप B.sc कर सकते है। तो इस प्रकार से आप अपने विषय के अनुसार ग्रेजुएशन कोर्स कर सकते है। अब हम कुछ और भी ग्रेजुएशन कोर्स की लिस्ट आपको बता देते है। आप इनमे से अपने विषय/रूचि के अनुसार कोई भी ग्रेजुएशन कोर्स चुन सकते है।

अंडर ग्रेजुएशन कोर्स लिस्ट इन हिंदी


तो ये कुछ ग्रेजुएशन कोर्स के नाम है जिन्हे आप कक्षा 12 पास करने के बाद कर सकते है। अपने जिस विषय से कक्षा 12 उत्तीर्ण किया है उसके अनुसार ग्रेजुएशन कोर्स कर सकते है। इसके अलावा भी बहुत से ग्रेजुएशन कोर्स होते है लेकिन ये कुछ लोकप्रिय कोर्स है जो ज्यादातर किए जाते है।

ग्रेजुएशन कैसे किया जाता है (ग्रेजुएशन कोर्स में ऐडमिशन कैसे ले)

ग्रेजुएशन कैसे किया जाता है या ग्रेजुएशन कोर्स में ऐडमिशन कैसे ले इसके बारे में बात करे, तो ग्रेजुएशन कोर्स में आपकी ऐडमिशन दो प्रकार से होती है। पहला प्रवेश परीक्षा पास करके और दुसरा बिना प्रवेश परीक्षा पास किए। भारत में बहुत से सरकारी विश्वविद्यालय या यूनिवर्सिटी है जहां आपको अगर ग्रेजुएशन करना है। तो आपको प्रवेश परीक्षा यानी Entrance Exam क्लियर करना होगा तभी आपको वहा ऐडमिशन मिलेगी। वही बहुत से ऐसे प्राइवेट काॅलेज भी है जहा पर आप ग्रेजुएशन कोर्स में डायरेक्ट ऐडमिशन ले सकते है बिना किसी Entrance Exam के। अब हम आपको विस्तार से बताते है की आप ग्रेजुएशन कोर्स में ऐडमिशन कैसे ले।

सबसे पहले आप जिस विश्वविद्यालय या यूनिवर्सिटी में ऐडमिशन लेना चाहते है उसके प्रवेश परीक्षा के फॉर्म के लिये आवेदन करे। आप उस विश्वविद्यालय या यूनिवर्सिटी के ऑफिशिअल वेबसाइट पर जाकर प्रवेश परीक्षा के लिये आवेदन कर सकते है। या फिर ऑफलाईन उस यूनिवर्सिटी के कार्यालय मे जाकर भी प्रवेश परीक्षा के लिये आवेदन कर सकते है। आवेदन करने के बाद आपको प्रवेश परीक्षा की अच्छे से तैयारी करनी होगी जिससे की आप उस परिक्षा में अच्छे अंक प्राप्त कर पाये और अच्छे काॅलेज में ऐडमिशन ले पाए। आपके प्रवेश परीक्षा में प्राप्त अंक के अनुसार आपको काॅलेज मिल जायेंगे फिर आपको उस काॅलेज में अपने document के साथ जाकर ऐडमिशन ले लेना है। और अगर आप किसी प्राइवेट काॅलेज से ग्रेजुएशन करना चाहते है तो आप सिधे उस काॅलेज मे जाकर ऐडमिशन ले सकते है इसके लिये आपको पता लगना होगा की कौनसा काॅलेज बिना प्रवेश परीक्षा के ऐडमिशन दे रही है।

ग्रेजुएशन की फीस कितनी होती है

अगर आपके मन में ये सवाल है की ग्रेजुएशन करने में फीस कितनी लगती है तो ये निर्भर करता है आपके द्वारा चुने गये यूनिवर्सिटी या काॅलेज पर। यदि आप किसी सरकारी काॅलेज से ग्रेजुएशन कर रहे है तो आपकी फीस थोडी कम लग सकती है वही अगर आप किसी प्राइवेट काॅलेज से ग्रेजुएशन कर रहे है तो आपको सरकारी काॅलेज के अपेक्षा ज्यादा फीस देना पड़ सकता है। आपने ग्रेजुएशन करने के लिये कौनसा कोर्स चुना है इसके अनुसार भी फीस कम या ज्यादा हो सकता है कुछ कोर्स ऐसे होते है जिन्हे आप कम फीस में कर सकते है जैसे बीए, बीएससी और कुछ कोर्स में आपके ज्यादा फीस लग सकते है जैसे बीटेक अगर हम सरकारी यूनिवर्सिटी की ग्रेजुएशन कोर्स में लगने वाले फीस की बात करे तो 10 हजार से 25 हजार तक लग सकते है ये कम या ज्यादा भी हो सकते है।

ग्रेजुएशन करने के बाद क्या करे

ग्रेजुएशन कोर्स करने के बाद क्या करे ये आप पर निर्भर करता है आप चाहे तो ग्रेजुएशन के बाद उच्च स्तर की पढाई जैसे पोस्ट ग्रेजुएशन कर सकते है जैसे अगर आपने ग्रेजुएशन कोर्स में B.A किया है तो इसके बाद आप M.A कर सकते है जोकि एक पोस्ट ग्रेजुएशन कोर्स है। और अगर आपने ग्रेजुएशन कोर्स में B.sc किया है तो इसके बाद आप M.sc कर सकते है। इसके अलावा आप चाहे तो किसी सरकारी नौकरी के लिये तैयारी भी कर सकते है।

ग्रेजुएशन और पोस्ट ग्रेजुएशन में अंतर

कई छात्रों के मन में ये सवाल होता है की ग्रेजुएशन और पोस्ट ग्रेजुएशन में क्या फर्क है क्या ये अलग-अलग डिग्री होते है। तो इसका उत्तर है हा ग्रेजुएशन की डिग्री पोस्ट ग्रेजुएशन की डिग्री से अलग होती है।

जब आप कक्षा 12 पास करने के बाद जो 3 वर्ष का कोर्स करते है जैसे b.a , b.sc इसे ग्रेजुएशन कहा जाता है। और पोस्ट ग्रेजुएशन हम उसे कहते है जिसे आप ग्रेजुएशन करने के बाद करते है जैसे m.a , m.sc पोस्ट ग्रेजुएशन करने के लिये आपको ग्रेजुएट होना जरुरी होता है बिना ग्रेजुएशन किए आप पोस्ट ग्रेजुएशन में ऐडमिशन नही ले सकते। पोस्ट ग्रेजुएशन को हम मास्टर डिग्री के नाम से भी जानते है और वही ग्रेजुएशन को हम बेचलर डिग्री कहते है।

Conclusion 

इस आर्टिकल में हमने Graduation kya hai और Graduation kaise kare इसके बारे में विस्तारपूर्वक समझा। हम आसा करते है की यहा पर जितनी भी जानकारी दी गई है उससे आपको Graduation details in hindi और Graduation ka matlab अच्छे से समझ में आ गया होगा। अगर आपके मन में कोई सवाल हो तो आप हमे नीचे कमेंट में पुछ सकते है और इस आर्टिकल को आप अपने दोस्तो के साथ सोशल मीडिया पर शेयर जरुर करे।

इन्हे भी पढ़े 

0 Response to "ग्रेजुएशन क्या है और ग्रेजुएशन कैसे करे - What Is Graduation In Hindi"

Post a Comment