Noun किसे कहते हैं ? (Noun in hindi with definition)

What is noun in hindi
What is noun in hindi

What is noun in hindi, definition, Examples

परिभाषा --- जहां तक noun संज्ञा की परिभाषा का प्रश्न है तो हम सिधे और सरल ढंग से कह सकते है कि नाम चाहे वह मनुष्य हो, स्थान हो या वस्तु हो। संसार भर मे जितने भी मनुष्य है, वस्तुए है या स्थान है सभी संज्ञा के अन्तर्गत आते है। जैसे -- लड़का, राम, किताब और संज्ञा के पांच भेद माने गए है। 

Noun कितने प्रकार के होते हैं (Kind of noun in hindi)

Noun की परिभाषा और उदाहरण हमने ऊपर देखा अब हम बात करते है की noun कितने प्रकार के होते है। तो, noun को मुख्यतः पाँच भागों में बता गया है।

(1). Proper Noun (व्यक्ति वाचक संज्ञा)
(2). Common Noun (जाति वाचक संज्ञा)
(3). Material Noun (धातु वाचक संज्ञा)
(4). Collective Noun (समूह वाचक संज्ञा)
(5). Abstract Noun (भाव वाचक संज्ञा)


Proper Noun (व्यक्ति वाचक संज्ञा)

किसी विशेष व्यक्ति , स्थान या वस्तु को व्यक्ति वाचक संज्ञा कहते हैं।
जैसे -- Mohan , Delhi , Ganga यहां मोहन एक व्यक्ति विशेष का नाम है। मोहन को मोहन ही कहेंगे , सोहन नही उसी प्रकार गंगा एक नदी का नाम है। गंगा को गंगा ही कहेंगे उसे यमुना नहीं कह सकते। एक बात ध्यान देने योग्य है कि व्यक्ति वाचक संज्ञा का पहला अक्षर सदैव बड़ा लिखा जायेगा।

Common Noun (जाति वाचक संज्ञा)

जो शब्द किसी व्यक्ति अथवा स्थान या वस्तु की जाति का ज्ञान कराते हों उसे हम Common Noun या जाति वाचक संज्ञा कहते हैं। जैसे -- Boy , City , Book। यहां Boy एक जाति का बोध कराता है अर्थात् आप प्रत्येक Boy 'लड़का ' को लड़का कह सकते हैं चाहे उसका नाम मोहन हो या सोहन।

लड़का एक जाति का बोध करा रहा है। ठीक इसी तरह प्रत्येक शहर (City-सिटी) को शहर कह सकते हैं चाहे वह Delhi हो या Agra अर्थात् City भी जाति का बोध करा रहा है। यही बात (Book-बुक) पुस्तक पर लागू होती है।
इस प्रकार हम कह सकते हैं कि Boy -- लड़का ; City -- शहर ; Book -- पुस्तक जातिवाचक संज्ञाएं हैं।

Material Noun (धातु वाचक संज्ञा)

जिन शब्दों द्वारा किसी धातु अथवा द्रव्य (Liquid-तरल पदार्थ) का ज्ञान हो उसे धातु वाचक या द्रव्य वाचक संज्ञा कहते हैं।
जैसे -- Milk (दूध), Water (पानी) या Gold (सोना) ये सारी वस्तुएं संग्रह रूप में मिलेंगी अर्थात् पानी चाहे आप गिलास में लें या किसी बर्तन में आपको इकट्ठा ही मिलेगा आप उसकी मात्रा चाहे जितनी थोड़ी ही क्यों न कर लें पर आप कण-कण नहीं कर सकते हैं।

ठीक यही बात सोना अर्थात् Gold पर लागू होती है। सोना एक धातु है आप इसे छोटा से छोटा कर लें पर इसके कण-कण नहीं कर सकते। थोड़े शब्दों में हम कह सकते हैं कि ये सभी शब्द धातु वाचक या द्रव्य वाचक संज्ञा के अन्तर्गत आते हैं।

Collective Noun (समूह वाचक संज्ञा)

जो शब्द व्यक्तियों अथवा वस्तुओं के समूह या संगठन का बोध करायें उसे हम समूह वाचक संज्ञा कहते हैं।
जैसे -- कक्षा या पुलिस
जब विद्यार्थी अकेला हो तो हम उसे विद्यार्थी कहते हैं पर जब विद्यार्थियों का समूह किसी कमरे में बैठा हो तो हम उसे कक्षा या श्रेणी का नाम देते हैं।

ठीक इसी प्रकार जब पुलिस का सिपाही अकेला होता है तो हम उसे सिपाही का नाम देते हैं पर जब हम सिपाहियों के समुदाय या संगठन को समूचा लेते हैं तो हम उसे 'पुलिस' का नाम देते हैं।

थोड़े शब्दों में समूह वाचक संज्ञा किसी एक जाति की अनेक वस्तुओं के समूह का बोध कराती है। हमें यह बात स्मरण रखनी चाहिए कि समूह वाचक संज्ञा की इकाई जाति वाचक संज्ञा ही होती है।

Abstract Noun (भाव वाचक संज्ञा)

जो शब्द, स्थान अथवा वस्तु के गुण, भाव या अवस्था का बोध कराते हों उन्हें भाव वाचक संज्ञा कहते हैं।
जैसे -- Goodness, Honesty, death आदि। Goodness (अच्छाई) ; Honesty (ईमानदारी) ; death (मृत्यु) ये सभी शब्द गुण या अवस्था के प्रतीक हैं। ये सभी भाव-विशेष को बताते हैं जैसे अच्छाई अथवा मृत्यु। इसीलिए इन्हें भाव वाचक संज्ञाएं कहा जाता है।

भाव वाचक संज्ञाएं बनाने के लिए प्रायः संज्ञात्मक शब्द के पीछे 'ness' ,  'ry' ,  'hood'  या 'ship' आदि लगा दिया जाता है।
जैसे -- 
Wickedness  -- बुराई 
bravery -- बहादुरी 
Childhood  -- बचपन
ownership -- मलकियत



▪︎ Past tense

0 Response to "Noun किसे कहते हैं ? (Noun in hindi with definition)"

Post a Comment